उत्तर प्रदेश में घूमने की 10 सबसे अच्छी जगह | Best Places To Visit In Uttar Pradesh In Hindi

 

Uttar Pradesh Mein Ghumne Ki Jagah
Uttar Pradesh Mein Ghumne Ki Jagah

Uttar Pradesh(UP) Mein Ghumne Ki Sabse Acchi Aur Khubsurat Jagah

भारत के सबसे बड़े प्रदेशों में उत्तर प्रदेश को गिना जाता है । इस प्रदेश के अंदर कई सारे घूमने के स्थान हैं जिसमें ताजमहल भी शामिल है जो दुनिया के सात अजूबों की लिस्ट में आता है । उत्तर प्रदेश अपने धार्मिक ऐतिहासिक और प्राकृतिक स्थलों के लिए प्रसिद्ध है यहां रामायण और महाभारत काल के धार्मिक स्थल और मंदिर भी है साथ ही राजा, महाराजाओ और मुगल बादशाहों की बेमिसाल इमारतें भी हैं । यहां कई खूबसूरत और प्राकृतिक स्थल हैं जिस कारण देश और विदेश से लोग इन्हें देखने के लिए आते हैं आज हम आपको उत्तर प्रदेश में घूमने की सबसे अच्छी जगहों के बारे में बताएंगे ।

आगरा

आगरा भारत की सबसे ज्यादा पर्यटकों को पसंद आने वाली जगह है आगरा वह जगह है जो दुनिया के सात अजूबों में से एक का शहर है जिसका नाम ताजमहल है । देशी और विदेशी पर्यटकों के लिए आगरा घूमने के लिए एक अच्छा स्थल है । आगरा में ताजमहल के अलावा भी बहुत सी घूमने की जगह है । ‌

आगरा उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

सुर सरोवर पक्षी विहार - सुर सरोवर पक्षी विहार आगरा से 30 किलोमीटर दूर दिल्ली आगरा हाईवे पर बना हुआ है जो पक्षी प्रेमियों के लिए एक अच्छी जगह है ।

मरियम का मकबरा - मरियम का मकबरा मुगल सम्राट अकबर की पत्नी रानी मरियम उस जमानी की समाधि है । यहां दीवार पर बनी आकृति बीते जमाने की याद दिलाती है ।

मेहताब बाग - मेहताब बाग ताजमहल के उत्तर में यमुना पर बना हुआ एक सुंदर बगीचा है इससे ताजमहल का अद्भुत दृश्य देखने को मिलता है ।

अकबर का मकबरा - यहां पर विश्व प्रसिद्ध मुगल शासक अकबर को दफना दफन किया गया है इस ईमारत को मुख्यतः लाल पत्थर से बनाया गया है ।

फतेहपुर सीकरी - मुगलों द्वारा बनाए गए इस शहर का मुख्य आकर्षण है मजबूती से निडर खड़ा हुआ बुलंद दरवाजा । यहां सलीम चिश्ती का मकबरा, जोधा बाई का महल लोकप्रिय पर्यटन स्थल है ।

जामा मस्जिद - यह देश की सबसे बड़ी मस्जिदों में से एक है अपने सुंदर निर्माण के लिए जानी जाती है यहां लाल पत्थर और संगमरमर इसकी सुंदरता को और बढ़ा देते हैं ।

आगरा का किला - इसमें बीते दौर में पूरा एक शहर बसता था । अपने इतिहास की वजह से इसे यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर स्थल के लिए चुना गया है ।

इटिमाद उद धौला का मकबरा - इटिमाद उद धौला का मकबरा अकबर के कीमती खजानों में से एक है इसे बच्चा ताज भी कहां जाता है ।

यमुना रिवर वोटिंग - आगरा के ताजमहल के पास जो यमुना नदी बहती है वहां पर आप वोटिंग करकर ताजमहल का सुंदर दृश्य देख सकते हैं जिससे आपको शांति और खूबसूरती का एहसास होगा ।

ताजमहल - ताजमहल दुनिया के सात अजूबों में से एक है जो आगरा में स्थित है । यहां के गार्डन, फाउंटेन और इसका स्ट्रक्चर पर्यटकों के लिए बहुत लुभावना है ।

आगरा उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • सिकंदरा
  • इत्माद उद दौला
  • चौसठ खम्भा
  • रोमन कैथोलिक कब्रिस्तान 
  • चिनी का रौजा
  • राजा जसवंत सिंह की छत्री
  • दयाल बाग
  • गुरु का ताल

लखनऊ

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ एक बहुत ही सुंदर शहर है लखनऊ में कई सारे टूरिस्ट और ऐतिहासिक स्थल है । लखनऊ अपने अदब और तहजीब के साथ स्वादिष्ट पकवान के लिए जाना जाता है । यह एक नवाबी शानो-शौकत वाला शहर है जो अपनी अवधि संस्कृति के लिए मशहूर है यह पहली झलक में आपका मन मोह लेगी । यहां पर आप शॉपिंग का मजा भी ले सकते हैं ।

लखनऊ उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

दिलकुशा कोठी - यह शानदार जगह लखनऊ में गोमती नदी के किनारे दिलकुशा गार्डन में बनी हुई है । यह प्रथम लड़ाई के वक्त स्वतंत्रा सेनानियों की जगह थी ।

जनेश्वर मिश्रा पार्क - तकरीबन 376 एकड़ के क्षेत्र में फैला यह पार्क लखनऊ के गोमती नगर में स्थित है । यहां आप झील, नाव और लड़ाकू विमान को देख सकते हैं ।

साइंस सिटी - यह शानदार साइंस पार्क अलीगंज इलाके में बना हुआ है जहां पर पर्यटक विज्ञान और ब्रह्मांड से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

चंद्रिका देवी मंदिर - चंद्रिका देवी मंदिर गोमती नदी के किनारे लखनऊ सीतापुर मार्ग पर बना हुआ है कि 300 साल पुराना माना जाता है ।

अमीनाबाद - अमीनाबाद लखनऊ का एक प्रसिद्ध बाजार है यह बाजार अपने खाने-पीने की चीजों और शॉपिंग के लिए प्रसिद्ध है ।

ब्रिटिश रेजिडेंसी - यह जगह लखनऊ के सबसे महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक स्थलों में से एक है यहां पर आप म्यूजियम को भी देख सकते हैं ।

अंबेडकर मेमोरियल पार्क - डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी को समर्पित यह पार्क वर्तमान में आधुनिक लखनऊ की छवि को प्रदान करता है ।

लखनऊ जू - लखनऊ का यह चिड़ियाघर यहां पर आने वाले पर्यटकों में काफी लोकप्रिय हैं यहां पर टाईगर, भेड़िया, भालू और हाथी जैसे जानवर हैं । सफेद बाघ और काला हिरण यहां की विशेषता है यहां आप ट्रेन में बैठ कर पूरे चिड़ियाघर के सुंदर दृश्य को देख सकते हैं ।

हजरतगंज - हजरतगंज शहर का सबसे मुख्य कॉन्प्लेक्स माना जाता है यह यहां आने वाले पर्यटकों में शॉपिंग के लिए काफी लोकप्रिय हैं ।

बड़ा इमामबाड़ा - यह लखनऊ का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है यह लखनऊ की सबसे उत्कृष्ट इमारत मानी जाती है । यह अपनी भूलभुलैया के लिए काफी प्रसिद्ध है । इस भूल भुलैया में जाकर आप एडवेंचर और रोमांच से भर जाएंगे ।

लखनऊ उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • छोटा इमामबाड़ा
  • कॉन्स्टेंटिया हाउस
  • लखनऊ संग्रहालय
  • रूमी दरवाजा
  • छत्तर मंज़िल
  • बेगम हजरत महल पार्क
  • शाही बावली
  • आसिफी मस्जिद
  • हुसैनाबाद क्लॉक टॉवर
  • सतखंडा
  • सआदत अली खान का मकबरा
  • बेगम मुर्शिदादी का मकबरा
  • शाह नजफ़ इमामबाड़ा

वाराणसी

वाराणसी को घाटों का शहर भी कहते है यहां पर बनारसी पान, साड़ी और बहुत सी चीजें हैं जिस वजह से पर्यटक यहां खिंचे चले आते हैं । वाराणसी को काशी और बनारस के नाम से जाना जाता है जोकि इस दुनिया के पुराने नगरों में से एक माना जाता है । भारत की यह जगह प्रसिद्ध और प्राचीन नगरी गंगा नदी के तट पर बसी हुई है । इसे भगवान शिव की नगरी भी कहां जाता है ।

वाराणसी उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

तुलसी मानस टेंपल - तुलसी मानस टेंपल वाराणसी में स्थित यह एक आधुनिक मंदिर है इसके दीवार पर रामचरितमानस की पंक्तियां लिखी गई है ।

भारत कला भवन - यह काशी हिंदू विश्वविद्यालय में स्थित एक चित्रशाला है जहां पर आप हाथी दांत, कागज और कपड़े से बनाए चित्र देख सकते हैं ।

संकट मोचन हनुमान मंदिर - हनुमान जी का यह मंदिर वाराणसी का पवित्र मंदिर है इस मंदिर का निर्माण मदन मोहन मालवीय ने करवाया था ।

ज्ञान वापी वेल - यह हिंदू धर्म के लोगों में काफी पवित्र माना जाता है यहां पर आप ज्ञानवापी मस्जिद को भी देख सकते हैं ।

अलार्म गिर मस्जिद - यह ऐतिहासिक और खूबसूरत मस्जिद गंगा नदी के किनारे बनी हुई है । सभी पर्यटक इस मस्जिद की सुंदरता को देखने जरूर आते हैं ।

दुर्गा माता मंदिर - माना जाता है यहां पर स्थापित मूर्ति स्वयं प्रकट हो गई थी । यहां पर एक तालाब है जो दुर्गाकुंड के नाम से जाना जाता है ।

सारनाथ स्तूप - इन बौद्ध स्तूपों का निर्माण लगभग 2500 साल पहले किया गया था । यह सारनाथ संग्रहालय भी देख सकते हैं ।

रामनगर किला - गंगा नदी के तट पर बना यह किला मुगल वास्तुकला में बना हुआ है यहां आप सरस्वती भवन म्यूजियम को भी देख सकते हैं ।

बनारस के घाट - गंगा नदी के किनारे बने हुए बहुत सारे घाट है जो हिंदू धर्म के लोगों में काफी पवित्र माने जाते हैं । यहां का सबसे प्रसिद्ध घाट मणिकर्णिका है ।

काशी विश्वनाथ - काशी को भगवान शिव के प्रिय नगरी कहां जाता है यहां भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से 7 ज्योतिर्लिंग है । यहां बाबा विश्वनाथ शक्ति की देवी मां भगवती के साथ विराजमान है ।

वाराणसी उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • दशाश्वमेध घाट
  • अस्सी घाट
  • कठवाला मंदिर
  • नया विश्वनाथ मंदिर
  • मंकी (बंदर) मंदिर
  • भारत माता मंदिर
  • दशाश्वमेध घाट
  • मन मंदिर
  • शिवालय घाट
  • सिंधिया घाट

अयोध्या

अयोध्या को राम जी की जन्मभूमि भी कहां जाता है अयोध्या भारत का एक प्राचीन शहर है ‌। अयोध्या उत्तर प्रदेश राज्य में सरयू नदी के तट पर स्थित है । यह यहां स्थित मंदिरों और अपने सुंदर घाटों के लिए जाना जाता है यहां आप प्रकृति के अलौकिक सौंदर्य को देखकर रोमांचित हो जाएंगे । यहां पौराणिक, धार्मिक और ऐतिहासिक कई महत्वपूर्ण स्थान है ।

अयोध्या उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

कनक भवन - यह भवन सोने का घर के नाम से भी जाना जाता है यह पवित्र स्थल माता सीता जी को समर्पित हैं ।

हनुमानगढ़ी - यह मंदिर भगवान हनुमान को समर्पित है इस मंदिर का निर्माण किले की भांति करवाया गया है ।

गुलाब बारी - इसे फूलों के बगीचे के नाम से भी जाना जाता है यह प्राचीन स्मारक और पुरातत्व स्थलों में शामिल है ।

छोटी छावनी - इसे बाल्मीकि भवन के नाम से भी जाना जाता है यह शानदार संरचना है जो पूरी तरह से संगमरमर से बनी है ।

तुलसी स्मारक भवन - यह जगह एक मैसिव लाइब्रेरी और अयोध्या रिसर्च संस्थान है

राम कथा पार्क - यह सुंदर पार्क में ओपन एयर थिएटर और लोन है यह भक्ति, कथा और सांस्कृतिक कार्य के लिए इस्तेमाल किया जाता है ।

दशरथ भवन - ऐसा माना जाता है कि यही वह भवन है जहां राजा दशरथ रहा करते थे यह अब एक भव्य मंदिर है ।

सीता की रसोई - ऐसा बताया जाता है यहां भगवान राम की पत्नी खाना बनाया करती थी यह एक बेसमेंट किचन है ।

गुप्तर घाट - यह श्रद्धालुओं के लिए पॉपुलर जगह है जोकि धार्मिक गतिविधियों के लिए काफी विख्यात है ‌।

मणि प्रभात - यह एक छोटी पहाड़ी है यह पहाड़ी सम्राट अशोक द्वारा निर्मित स्तूप और बोध मिनिस्ट्री के लिए जानी जाती है ।

अयोध्या उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • राम लला मंदिर
  • राम कोट
  • नागेश्वरनाथ मंदिर
  • मोती महल
  • त्रेता का ठाकुर
  • गुप्तार घाट
  • बहू बेगम की समाधि

मथुरा

मथुरा को श्री कृष्ण की नगरी भी कहते हैं मथुरा यमुना नदी के किनारे उत्तर प्रदेश में स्थित है ‌। अगर आप घूमने के शौकीन हैं और आपकी धर्म में रुचि है तो मथुरा आपके लिए एक अच्छा शहर हो सकता है । यह एक धार्मिक स्थल है जहां भगवान कृष्ण के कई मंदिर हैं । यहां दुनिया भर से पर्यटक श्री कृष्ण के मंदिरों में घूमने के लिए आते हैं ।

मथुरा उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

श्री कृष्ण बलराम मंदिर - इसमें राधा कृष्ण की काफी सुंदर और भव्य मूर्तियां हैं इसमें भारतीयों के साथ साथ अंग्रेज भी दर्शन करने आते हैं इसलिए इसे अंग्रेजों का मंदिर भी कहां जाता है ।

मथुरा म्यूजियम - इस म्यूजियम की सामग्री देश के कई म्यूजियमो में भेज दी गई है । यहां पर अत्यधिक प्राचीन समय के शासकों की मूर्तियां देखने को मिलती है ।

राधा रानी टेंपल - इस राधा रानी महल भी कहां जाता है यह सुंदर और मनमोहक मंदिर 250 मीटर ऊंची पहाड़ी पर बना है ।

गोवर्धन पर्वत - यहां लोग गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा करने आते हैं यह 21 किलोमीटर की है जिसमें कई सुंदर स्थान है जो मन को काफी शांति प्रदान करते हैं ।

कुसुम सरोवर - इस सरोवर के चारों तरफ कई सारे पेड़ है और इसके प्राकृतिक दृश्य बहुत ही मनमोहक है ।

विश्राम घाट - कहां जाता है भगवान श्री कृष्ण ने कंस का वध करकर इसी घाट पर विश्राम किया था ‌। यमुना महारानी की आरती भी यहीं से की जाती है ।

द्वारकाधीश मंदिर - यह मंदिर सांस्कृतिक वैभव और सौंदर्य के लिए जाना जाता है सावन के महीने में लाखों लोग इसके दर्शन के लिए आते हैं ।

प्रेम मंदिर - यह मंदिर श्री कृष्ण और राधा जी का है यह इटालियन संगमरमर का बना हुआ है इसमें फव्वारे और गोवर्धन झांकियां सजी हुई है ।

बांके बिहारी मंदिर - यह भारत के प्राचीन और प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है अगर आपने यहां के दर्शन नहीं किए तो समझिए आपने यहां कुछ नहीं देखा ।

श्री कृष्ण जन्मभूमि मंदिर - यह हिंदू धर्म के लोगों में श्री कृष्ण का जन्म स्थान है सिर्फ राष्ट्र में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में मथुरा को श्री कृष्ण जन्मभूमि के नाम से जाना जाता है ।

मथुरा उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • जामा मस्जिद
  • कंश किला
  • राधा कुण्ड
  • मथुरा संग्रहालय
  • विश्राम घाट
  • रंग भूमि

वृंदावन

वृंदावन जिसके रंग में हर कोई रंगना चाहता है जहां बस हर तरफ राधे-राधे की गूंज है । वृंदावन उत्तर प्रदेश के मथुरा शहर से 10 किलोमीटर दूर है । पूरे देश में श्री कृष्ण जी के कई मंदिर स्थित है लेकिन वृंदावन की बात ही कुछ और है । यह एक ऐतिहासिक और धार्मिक नगर है यह जगह श्री कृष्ण की बाल लीलाओं की जगह मानी जाती है ।

वृंदावन उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

इस्कॉन मंदिर - यह मंदिर श्री कृष्ण बल्लभ के रूप में जाना जाता है यह मंदिर शहर का मुख्य आकर्षण है ।

श्री रंगनाथ मंदिर - यह बेहद ही सुंदर और प्रसिद्ध है यह मंदिर भगवान विष्णु और लक्ष्मी जी को समर्पित है ।

शाहजी मंदिर - यह मंदिर संगमरमर से बना हुआ है यह देखने लायक कृष्ण जी का भव्य मंदिर है ।

गोविंद देव जी मंदिर - यहां पर श्री कृष्ण जी का बचपन का घर था उनके माता-पिता भी नहीं रहा करते थे ।

गोपेश्वर नाथ महादेव मंदिर - यह मंदिर सबसे पुराना मंदिर है भगवान शिव की पूजा के लिए पर्यटक यहां आया करते हैं ।

राधा रमण मंदिर - इस मंदिर में गोपाल वर्शन की समाधि है यह वृंदावन का एक प्रमुख मंदिर है ।

निधिवन मंदिर - यह मंदिर जंगलों के बीच बसा श्री कृष्ण जी का मंदिर है इसके पास एक कुआं है जो काफी महत्व रखता है ।

श्री गोपीनाथ मंदिर - यह वृंदावन का सबसे पुराना मंदिर है जो राधा कृष्ण जी का मंदिर है ।

प्रियाकांत जू मंदिर - यह मंदिर पानी के तालाब के बीच बना हुआ है इस मंदिर में शाम का नजारा काफी सुंदर होता है ।

मदन मोहन मंदिर - यह मंदिर 50 फीट की पहाड़ी पर बना है यह वृंदावन के काफी पुराने और प्रसिद्ध मंदिरों में से एक है ।

वृंदावन उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • हरे राम हरे कृष्णा मंदिर
  • केशी घाट
  • बांके बिहारी मंदिर
  • प्रेम मंदिर
  • राधा दामोदर मंदिर
  • श्री राधा रास बिहारी आस्था सखी मंदिर
  • पागल बाबा मंदिर

इलाहाबाद

इलाहाबाद को वर्तमान में प्रयागराज के नाम से भी जाना जाता है प्रयागराज भारत के उत्तर प्रदेश के पूर्वी भाग में स्थित एक शहर है । इसे तीर्थराज प्रयाग भी कहते हैं जिसका पौराणिक नाम प्रयाग है । यहां हर 6 वर्षों में अर्ध कुंभ और 12 वर्षों में कुंभ मेले का आयोजन होता है जिसमें दुनियाशंभर से श्रद्धालु गंगा, यमुना और सरस्वती के पवित्र त्रिवेणी संगम में आस्था की डुबकी लगाने आते हैं ।

इलाहाबाद उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

नया यमुना ब्रिज - इलाहाबाद का नया यमुना ब्रिज इलाहाबाद की आधुनिक झलक दिखाता है जोकि 1.5 किलोमीटर लंबा है ।

इलाहाबाद हाईकोर्ट - यह न्याय से जुड़ा एक महत्वपूर्ण भवन है यह अपनी वास्तुकला और इतिहास के लिए भी जाना जाता है ।

मिंटो पार्क - यह इलाहाबाद का एक हरा-भरा पार्क है यह पार्क यमुना के किनारे शहर के दक्षिणी भाग में स्थित है ।

ऑल सेंट्स कैथेड्रल - यह एक भव्य गिरजाघर है जिसमें बौद्धिक वास्तुकला झलकती है इसमें क्वीन विक्टोरिया को समर्पित एक मेमोरियल भी है ।

इलाहाबाद संग्रहालय - इसमें आप ऐतिहासिक, सांस्कृतिक, परंपरा और भारत की आजादी से जुड़े कई तथ्य जान सकते हैं ।

आनंद भवन - यह नेहरू खानदान का पूर्व निवास है जिसको अब संग्रहालय में बदल दिया गया है यहां जवाहर प्लैनेटेरियम भी है ।

खुसरो बाग - यह एक मुगल गार्डन है जिसमें जहांगीर के सबसे बड़े बेटे खुसरो और उनकी पत्नी का मकबरा है ।

इलाहाबाद किला - यह बहुत ही बड़ा और भव्य किला है यहां हर साल लाखों पर्यटक आते हैं यहां से गंगा और यमुना का सुंदर दृश्य देखने को मिलता है ।

त्रिवेणी संगम - यह गंगा, यमुना और सरस्वती नदी का मिलन स्थल है कहते हैं यहां डुबकी लगाने से सारे पापों का नाश हो जाता है ।

चंद्रशेखर आजाद पार्क - यह वही पार्क है जहां पर स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद ने वतन के लिए अपनी जान निछावर की थी ।

इलाहाबाद उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • संगम
  • पातालपुरी मंदिर और अक्षय वट
  • खुसरो बाग
  • कंपनी गार्डन
  • स्वराज भवन

सारनाथ

उत्तर प्रदेश राज्य के वाराणसी शहर में स्थित सारनाथ बौद्ध धर्म का एक पवित्र तीर्थ स्थल है यह स्थल बनारस की घनी आबादी के बीच स्थित शांत और आध्यात्मिक अध्यात्मिक जगह है । यह अनेक बौद्ध स्तूपों, संग्रहालयों, प्राचीन स्थलों और खूबसूरत मंदिरों के साथ-साथ एक ऐतिहासिक शहर है । यह स्थान बौद्ध, जैन और हिंदुओं का एक आदर्श तीर्थ स्थल है ।

सारनाथ उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

चौखंडी स्तूप - उत्तर प्रदेश के सबसे पवित्र और पर्यटकों द्वारा सबसे ज्यादा देखे जाने वाला स्तूप है ।

थाई मंदिर - यह यहां की वास्तुकला की शैली को प्रदर्शित करता है यह मंदिर बगीचे के बीच बना है ।

तिब्बती मंदिर - इस मंदिर को तिब्बती बोहा चित्रों से सजाया गया था इस मंदिर में थाईलैंड, तिब्बती, चीन और जापान से लोग आते हैं । 

पुरातत्व संग्रहालय - सारनाथ में बौद्ध मूर्तियों का विस्तृत संग्रहालय है इस संग्रहालय में 6832 मूर्तियां और कलाकृतियां लगी हुई है ।

श्रीलंकन मंदिर - यह बौद्ध का मेन मंदिर है इस मंदिर में भगवान बुद्ध का दांत रखा गया है ।

धामेक स्तूप - यहां भगवान बुद्ध ने पहली बार धर्म का उपदेश दिया था इसलिए यह स्थान एक विशेष महत्व रखता है ।

सारनाथ म्यूजियम - यहां खुदाई के दौरान मिली कई सारी बुद्ध रिलीज, एंटीक और नेशनल एंबलम देखने को मिलेगा ।

अशोक स्तंभ - यह भारत का राष्ट्रीय चिन्ह है जिसके शीर्ष पर चारों दिशाओं में शेर बने हुए है ।

मूलगंध कुटी बिहार - यह सारनाथ के नष्ट हुए प्राचीन निर्माणो में स्थित है इसकी शिल्प शैली बाकी मंदिरों से अलग है ।

डियर पार्क - आप सारनाथ के डियर पार्क जरूर जाएं यह देखने में बहुत सुंदर और प्रकृति से जुड़ाव का अनुभव कराते है ।

सारनाथ उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • धारमराजिका स्तूप
  • बौधिवृक्ष

झांसी

झांसी उत्तर प्रदेश राज्य का एक ऐतिहासिक शहर है । यह शहर यहां की रानी लक्ष्मीबाई के लिए प्रसिद्ध है जिन्होंने भारत की आजादी में अपना काफी बड़ा योगदान दिया है । झांसी भारत इतिहास में सबसे समृद्ध और गौरवपूर्ण शहरों में से एक है । यह इतिहास के शौकीन और पर्यटकों के घूमने के लिए भारत की सबसे अच्छी जगहों में से एक है । इस शहर का नाम झांसी किले के नाम पर पड़ा है ।

झांसी उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

झांसी हर्बल गार्डन - झांसी का हर्बल गार्डन प्रकृति और विज्ञान का मिलाप है यहां की कलाकृतियां काफी अनोखी हैं ।

महाराजा गंगाधर राव की छत्र - लक्ष्मी तालाब के पास स्थित यह जगह महाराजा गंगाधर राव की याद में बनवाई गई थी यहां देखने के लिए बगीचा और मंदिर भी है ।

चतुर्भुज मंदिर - यह भगवान विष्णु को समर्पित एक विराट मंदिर है मंदिर में की गई कमल फूल की नक्काशी आपको काफी पसंद आएगी ।

बरुआसागर - इसका नाम यहां की खूबसूरत बरूआ सागर झील से पड़ा है यहां देखने के लिए अनेक जगह है ।

रामराजा मंदिर - यहां पर हर साल लाखों पर्यटक आते हैं रामनवमी, कार्तिक पूर्णिमा और मकर संक्रांति पर यहां का दृश्य देखने लायक होता है ।

सेट ज्यू गिरजाघर - यह झासी का महत्वपूर्ण और पवित्र स्थान है इस गिरजाघर में 28 अक्टूबर को उत्सव को देखने दूर-दूर से लोग आते हैं ।

रानी झांसी संग्रहालय - यहां आप बुंदेलखंड क्षेत्र के इतिहास और संस्कृति के साथ रानी लक्ष्मी बाई के जन्म की कई जानकारी जान सकते हैं ।

ओरछा पैलेस किला - यह किला और इसके आस-पास बने महत्वपूर्ण स्मारक और मंदिरों का नजारा काफी अच्छा है ।

रानी महल - यह महल रानी लक्ष्मीबाई का निवास स्थान था इस महल में की गई अनोखी कारीगरी देखने योग्य है ।

झांसी का किला - यह शहर का प्रतीक माना जाता है यह किला चंदेल के शासकों का गण था इस किले ने रानी लक्ष्मीबाई के कई युद्ध देखे हैं ।

झांसी उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • गणेश मंदिर
  • महालक्ष्मी मंदिर

चित्रकूट धाम

चित्रकूट धाम उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले के मंदाकिनी नदी के किनारे स्थित है । चित्रकूट एक ऐसी तपोस्थली है जहां की मिट्टी, पहाड़ों, वनो और झरनों की खुशबू देश-विदेश के लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती आई है । यह भारत का प्राचीन तीर्थ स्थल है यहां पर मंदाकिनी नदी के घाटों का दृश्य बहुत ही सुंदर है । भगवान राम, लक्ष्मण और सीता जी ने अपने वनवास के 11 वर्ष यही बिताए थे ।

चित्रकूट धाम उत्तर प्रदेश में घूमने की जगह

रामघाट - रामघाट पर सुबह की आरती आपका मन मोह लेगी, आप यहां नौका विहार भी कर सकते हैं ।

हनुमान धारा - यह ऊंचाई पर बना बहुत ही सुंदर मंदिर है यहां पंचमुखी हनुमान जी विराजमान है ।

जानकी कुंड - यहां माता सीता प्रतिदिन स्नान करती थी, यहां आज भी माता सीता के चरणों के चिन्ह मौजूद है ।

स्फटिक शिला - इस स्थान पर माता सीता और श्री राम चित्रकूट के प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेते थे ।

गुप्त गोदावरी - इसी स्थान पर 2 गुफाएं हैं जो बेहद ही सुंदर और भव्य हैं । इसमें से एक गुफा में पानी में होकर जाना पड़ता है जो प्रकृति का अनुभव कराती है ।

सती अनुसूया आश्रम - यह स्थान हरे-भरे जंगलों से भरा है यहां आपको प्रकृति का अलौकिक दृश्य देखने को मिलेगा ।

कामतानाथ - कामता गिरी पर्वत की परिक्रमा करने से मनोकामना पूरी होती है जो कि 5 किलोमीटर की है इसके रास्ते में कई मंदिर और सुंदर स्थान है ।

भरत मिलाप मंदिर - यहीं पर भरत जी और राम जी अपने अनुजो से मिले थे, जिनके पदचिन्ह आज भी यहां मौजूद है ।

लक्ष्मण पहाड़ी - यह लक्ष्मण जी का मंदिर है और उनके पद चिन्हों के दर्शन भी किए जा सकते हैं ।

भरतकूप - भरत जी ने सभी तीर्थों का जल लाकर यहां पर डाला था, लोग यहां आकर स्नान भी करते हैं ‌।

चित्रकूट धाम उत्तर प्रदेश में अन्य घूमने की जगह

  • कामादगिरी
  • राम धारा

About The Post

इस आर्टिकल में Uttar Pradesh Mein Ghumne Ki Jagah से संबंधित उत्तर प्रदेश में घूमने की सबसे अच्छी और खूबसूरत जगहों के बारे में बताया गया है अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा तो अपने फ्रेंड्स के साथ शेयर करें । अगर आप इस आर्टिकल से संबंधित कुछ भी पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट करकर बताएं, हम आपको जवाब जरूर देंगे ।


अन्य पढ़ें :


उत्तराखंड में घूमने की जगह

गोवा में घूमने की जगह

पंजाब में घूमने की जगह

भारत में घूमने की जगह














एक टिप्पणी भेजें

If you have any doubts, Please let me know